Duphaston in Hindi

Duphaston in Hindi

डुफास्टोन टैबलेट

Duphaston 10 mg tablet महिलाओं में बांझपन, माहवारी का दर्द एवं एन्डोमीट्रीओसिस के इलाज के लिए दी जाने वाली दवा है। यह दवा हॉर्मोन रिप्लेस्मन्ट के रूप में भी उपयोग की जाती है।

आइए जाने की डुफास्टोन कैसे काम करती है, इसके क्या दुष्प्रभाव हैं, इस्तेमाल में क्या सावधानियां बरतनी चाहिए और कुछ निषेध जब डुफास्टोन का बिलकुल इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

Read about Duphaston in English

डुफास्टोन की संरचना – Composition of Duphaston

डाइड्रोगेस्ट्रोन (Dydrogesterone) 10 मिली ग्राम, इस दवा का मुख्य कारक है जो एक कृत्रिम प्रोजेस्टेरोन है। यह दवा टेबलेट के रूप में मिलती है।

निर्माता –  Abbott India Limited
पर्चा – जरूरी है
रूप – टेबलेट
प्रकार – कृत्रिम हॉर्मोन दवा

डुफास्टोन कैसे काम करती है? – How does Duphaston work?

डुफास्टोन टेबलेट का काम है एंडोमेट्रियम की वृद्धि कम करना। डाइड्रोगेस्ट्रोन एक कृत्रिम प्रोजेस्टेरोन है। प्राकृतिक रूप से प्रोजेस्टेरोन गर्भाशय की परत जिसे एंडोमेट्रियम कहते हैं पर असर डालता है। यदि गर्भ टहरता है तो प्रोजेस्टेरोन एंडोमेट्रियम की वृद्धि रोक कर, गर्भावस्था में निकलने वाले होर्मोनेस एवं प्रोटीन्स का रिसाव करवाता है। अगर गर्भ नहीं टहरता तो एस्ट्रोजन और प्रोजेस्टेरोन का स्तर कम हो जाता है और एंडोमेट्रियम झड़ जाता है जिससे माहवारी होती है.

डुफास्टोन एंडोमेट्रियम की सभी परतों पर असर डाल कर उसकी वृद्धि रोकता है जिससे एन्डोमीट्रीओसिस (एंडोमेट्रियम की सूजन) के लक्षण जैसे दर्द और रक्त रिसाव में कमी आती है।

डुफास्टोन के उपयोग और फायदे – Duphaston Uses and benefits

यह दवा प्राकृतिक रूप से बनने वाले प्रोजेस्टेरोन की कमी से होने वाली बीमारियों के इलाज में दी जाती है जैसे-

  • माहवारी में दर्द
  • महिलाओं में बांझपन (Infertility in women)
  • गर्भाशय से असामान्य रक्त रिसाव (Pre-menstrual syndrome)
  • प्रीमेंस्ट्रुएशन सिंड्रोम
  • एन्डोमीट्रीओसिस – इस अवस्था में गर्भाशय की अंदरूनी सतह सूज कर बहार की तरफ बढ़ने लगती है। यह दवा इस अंदरूनी सतह यानी एंडोमेट्रियम की वृद्धि रोकती है।
  • एमेनोरिया (रजोरोध) – इस अवस्था में लगातार एक महीने से ज्यादा मासिक धर्म रिसाव नहीं होता
  • हॉर्मोन रिप्लेसमेंट थेरेपी

डुफास्टोन के दुष्प्रभाव – Duphaston side effects

डुफास्टोन के इतने सारे फायदों के साथ कुछ दुष्प्रभाव भी हैं। अगर आपको कोई भी दुष्परिणाम दिखे तो चिकित्सीय सलाह लें। अगर आपको डुफास्टोन लेते समय निम्नलिखित में से कोई भी लक्षण दिखाई दे तो डॉक्टर से परामर्श लें और इलाज़ करवाएं।

  • उलटी आना
  • वजन बढ़ना
  • त्वचा में खुजलाहट या चिकत्ते पड़ना
  • पेट फूलना
  • सूजन
  • घबराहट
  • स्पंदनशील सिरदर्द
  • पेट की तकलीफ
  • अनियमित मासिक धर्म रिसाव
  • चिड़चिडाहट
  • उदासीनता
  • मासपेशियों में दर्द

डुफास्टोन के निषेध – Contraindications for Duphaston

यह दवा निम्न तकलीफों की उपस्थिति में नहीं दी जाती है। अगर आपको इनमे से कोई भी समस्या है तो अपने डॉक्टर को बता दें।

  • अतिसंवेदनशीलता- अगर आपको डाइड्रोगेस्ट्रोन से या डुफास्टोन में उपस्थित किसी भी सामग्री से एलर्जी है
  • भारी मासिक धर्म रिसाव
  • हृदयाघात
  • अधूरा गर्भपात
  • अगर आपको या परिवार में किसी को स्तन कैंसर अथवा गर्भाशय का कैंसर हो
  • दिमाग का कैंसर
  • लीवर का काम न करना
  • अगर आप गर्भावस्था की दूसरी या तीसरी तिमाही में हैं

डुफास्टोन लेने की सावधानियां – Precautions while taking Duphaston

कुछ बीमारियों में हर दवा नहीं दी जा सकती है, और कभी-कभी कुछ दवाइयां सावधानी पूर्वक देना होती हैं। इसीलिए डुफास्टोन इस्तेमाल करने से पहले अगर आप इनमे से किसी भी स्वास्थ समस्या से जूझ रहे हैं तो अपने डॉक्टर को सूचित कर दें।

  • अनियमित रक्त रिसाव
  • स्तन कैंसर
  • गर्भाशय का कैंसर
  • उदासीनता
  • एस्ट्रोजन वाली दवा लेते हैं
  • पोरफाइरिया
  • यदि गर्भवती हैं या होना चाहती हैं

डुफास्टोन 10 मिली ग्राम टेबलेट की खुराक – Duphaston 10mg Tablets Dosage

डुफास्टोन 10 मिली ग्राम टेबलेट दिन में एक या दो बार खाने के साथ या बिना भी ले सकते हैं। खुराक आपकी तबियत पर निर्भर करती है। अपने डॉक्टर के बताये अनुसार ही सही खुराक उपयुक्त समय तक लें।

जरूरत से ज्यादा खुराक लेने पर (ओवरडोज़)-

डॉक्टर द्वारा बताई गयी खुराक से ज्यादा लेने पर दुष्प्रभाव हो सकते हैं। अगर कोई भी दुष्परिणाम दिखे तो डॉक्टर से परामर्श लें।

खुराक छूट जाने पर (मिस्सिंग डोस)-

याद आते ही बची हुई खुराक ले लें। अगर अगली खुराक लेने का समय हो गया हो तो एक खुराक छोड़ दें, पर कभी भी दोगुनी मात्रा में दवाई न लें।

गर्भावस्था या स्तनपान करवाते समय-

अपनी स्त्री रोग विशेषक को दिखा कर, उनके द्वारा लिखी गयी खुराक ही लें। चिकित्सक से परामर्श करने के बाद ही गर्भावस्था में ली जा सकती है।

डुफास्टोन का दूसरी दवाइयों के साथ प्रभाव – Duphaston – Drug Interactions

अगर आप डुफास्टोन किसी और दवा के साथ लेते हैं तो उसका असर बदल सकता है, फिर भले वो दवा किसी चिकित्सक ने लिखी हो या आपने स्वयं दवा कि दुकान से ले ली हो। ऐसा करने से दवा के दुष्प्रभाव बढ़ सकते हैं या दवा की कार्य प्रणाली भी प्रभवित हो सकती है। आप अपने चिकित्सक को उपयोग में लि जा रही सभी दवाइयों से, विटामिन्स और प्राकृतिक दवा से पहले ही अवगत करा दें तो इन दुष्परिणामों से बचा जा सकता है। निम्न्लिखित दवायें डुफास्टोन के साथ मिलने पर दुष्प्रभावित करती हैं

  • Carbamazepine
  • Griseofulvin
  • Phenobarbital
  • Rifampicin

डुफास्टोन 10 मिली ग्राम टेबलेट के विकल्प – Substitutes for Duphaston 10mg Tablets

निम्नलिखित दवाइयां रूप, संरचना एवं सामर्थ्य में डुफास्टोन जैसी ही हैं। अतः ये डुफास्टोन के विकल्प के रूप में इस्तेमाल की जा सकती हैं-

  • Jigest 10 मिली ग्राम टेबलेट – Sanzyme Ltd द्वारा निर्मित
  • Gestasure कैप्सूल – Mankind Pharmaceuticals Pvt Ltd द्वारा निर्मित

Reviews

Duphaston in Hindi
0.0 rating based on 12,345 ratings
Overall rating: 0 out of 5 based on 0 reviews.
Name
Email
Review Title
Rating
Review Content

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *