Curry Leave In Hindi

Curry Leave In Hindi

भारत में अगर आप दक्षिण के तरफ जाते हैं तो आपको हर प्रकार के खाने में करी पत्ते (Curry Leave) का उपयोग मिलेगा| इसे मीठी नीम भी कहा जाता है| खाने में डालने से इसका स्वाद काफी बढ़ जाता है और साथ ही हमारे सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद होता है| इस पत्ते का उल्लेख संस्कृत में भी कृष्णा निंबा के नाम से मिलता है|

यह आयुर्वेदिक औषधि गुणों से भरपूर है जिस कारण इसका चूर्ण अगर आप खाने के बाद छांछ में मिलाकर लेते हैं या फिर इसके पत्ते डालकर छांछ बनाते हैं तो यह आपके हजम के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है| करी पत्ते का वानस्पतिक नाम मुर्राया कोएनिगी (Murraya Koenigii) है|

आइये अब जानते हैं इसके कुछ गुणकारी लाभ के लिए जो हमारे स्वास्थ्य और साथ ही सौंदर्य के लिए भी हैं जरुरी –

Also read about Lemongrass in Hindi

शरीर में खून की कमी को दूर करता है करी पत्ता – Curry Leaves Benefits For Anemia

अगर आपके शरीर में खून की कमी सम्बन्धी समस्या है तो आपको खाने में करी पत्ते का उपयोग करना चाहिए| करी पत्ते प्रचुर मात्रा में आयरन से भरपूर होने की कारण यह शरीर के लिए एक प्रमुख पोषक तत्व है और शरीर में प्राकृतिक तरीके से खून बढ़ाने में काफी मदत करता है| अगर आप एनीमिया से पीड़ित हैं तो अच्छा होगा अगर आप खजूर को दो करी पत्तों के साथ खाली पेट रोज सुबह ले पाए जिससे खून की कमी सम्बन्धी समस्या दूर होगी और आयरन लेवल भी ऊंचा रहेगा|

शुगर सम्बन्धी समस्या में भी मदत करता है करी पत्ता – Curry Leaves Benefits For Diabetes

अगर आप अपने शुगर को नियंत्रन में रखना चाहते हैं तो आप करी पत्ते का उपयोग कर सकते हैं| करी पत्ते में पाए जाने वाले जरुरी फाइबर इंसुलिन सही रख कर ब्लड शुगर लेवल को कम करता है| इसलिए मधुमेह से ग्रस्त व्यक्तियों को अपनी डाइट में करी पत्ते शामिल जरूर करना चाहिए इससे बहुत ही फायदे मिलता है|

पाचन शक्ति को बढ़ाने में मदत करता है मीठी नीम – Curry Leaves Benefits For Digestion

करी पत्तों को नीम के गुणों के सामान माना जाता है इसलिए अगर आप अपने खाने में करी पत्तों का उपयोग करते हैं तो यह बहुत ही लाभदायक होता है आपके शरीर के लिए| अगर हम खाना बनाते समय इस पत्तों का उपयोग करते हैं तो यह हमारे हजम क्षमता को बढ़ाता है और साथ ही यह आपके पेट में होनेवाले गैस सम्बन्धी समस्या को भी कम करने में मदत करता है|

बालों को सफ़ेद होने से बचाता है करी पत्ते – Curry Leaves Benefits For Hair

अगर आपके बाल सफ़ेद होने की समस्या है तो आपके लिए करी पत्ता एक दवा की तरह काम कर सकता है| करी पत्तों का पेस्ट अगर आप आपके बालों में शैम्पू के जगह पर लगाते हैं तो यह आपके बालों को सफ़ेद होने से बचाता है और आपके बालों को मजबूती भी प्रदान करता है| इसलिए अगर आपके बाल सफ़ेद होने की और झड़ने की समस्या है तो करी पत्ता एक प्राकृतिक उपचार है आपके बालों के लिए|

दस्त सम्बन्धी समस्या को कम करता है मीठी नीम – Curry Leaves Benefits For Diarrhea

करी पत्ते में मौजूद कार्गो जोल होने की बहज से यह एंटीबैक्टीरियल और सूजन को कम करने में मदत करता है| करी पत्ता पेट से संबंधित पित्त को दूर कर दस्त को ठीक करता है| कढ़ी पत्तों को पीसकर इसके रस को छांछ के साथ दिन में दो से तीन बार लेने से यह बहुत ही लाभदायक होता है पर अगर आप बहुत ज्यादा इस समस्या से ग्रसित हैं तो आप अपने लोकल डॉक्टर से एकबार सलाह जरूर ले लें|

त्वचा के लिए भी बहुत ही लाभदायक है करी पत्ता – Curry Leaves Benefits For Skin

ठंडी मौसम में चेहरे की चमक को बढ़ाने के लिए करी पत्ते यानि मीठी नीम के पत्तों को तुलसी के पत्तों के साथ पीसकर लगाने से बहुत ही फायदा मिलेगा| यह पैक लगाने से आपके चेहरे की सभी समस्याओं जैसे कि चेहरे का रूखापन, झुर्रियां और मुंहासे कम हो जाता है| अगर आप करी पत्तों के पानी से रोज नहाते हैं तो यह आपके खुजली या इस तरह के एलर्जी सम्बन्धी समस्या को भी कम करने में मदत करता है|

करी पत्ता कैंसर के खतरे को करता है कम – Curry Leaves Benefits For Cancer

करी पत्ते में कई प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं, जो हमें कैंसर जैसी बीमारी दूर रहने में मदत करता है| करी पत्ते का विशेष तत्व ल्यूकेमिया, प्रोस्टेट कैंसर और कोलोरेक्टल कैंसर के खतरे को कम करने में मदत करता है|

शरीर में कैल्शियम बनाय रखता है करी पत्ता – Curry Leaves Help to Maintain Calcium Levels in the Body

करी पत्ते में मैग्नेशियम, कैल्शियम, फॉस्फोरस, आयरन, कॉपर और विटामिन भी होता है| अगर आपके शरीर में एनर्जी लेवल कम है या फिर आपके शरीर में कैल्शियम की कमी है तो आपके लिए करी पत्ता रोज खाने में इस्तेमाल करना बहुत ही लाभदायक हो सकता है| एक बात का ध्यान रखे की हम बहुत से समय तड़के में लगाए गए करी पत्तों को खाते समय अलग रख देते हैं जो कि बिलकुल भी सही नहीं है इसे हमेशा चबाकर खाना ही सही होता है|

करी पत्ते में रहनेवाले पोषक तत्वों – Nutrition values in Curry Leaves

100 ग्राम करी पत्ते में

  • कैलोरी (Kcal) – 325
  • कुल वसा – 14 G
  • कोलेस्टेरॉल – 0 Mg
  • सोडियम – 52 Mg
  • पोटैशियम – 1,543 Mg
  • कुल कार्बोहायड्रेट – 58 G
  • आहारीय रेशा – 33 G
  • शर्करा – 8 G
  • प्रोटीन – 13 G
  • विटामिन A – 986 IU
  • विटामिन C – 11.4 Mg
  • कैल्सियम – 478 Mg
  • आयरन – 6 Mg
  • विटामिन B6 – 1.2 Mg
  • मैग्नेशियम – 254 Mg

भारतीय भाषाओँ में करी पत्ते का नाम – Curry Leaves Name In Indian Language

  • संस्कृत – कृष्णा निंबा
  • हिंदी – करी पत्ता, कड़ी पत्ता, कथनीम, मीठा नीम, गंधेला, बारेंगा
  • बांग्ला – करी पाता, बरसांगा
  • तेलुगु – करइवेपकु, करेपकु
  • गुजराती – मिठो लिंडो, मीठो लिंबडो, गोरनिम्ब
  • तमिल – करइवेपपिलै, करिवम्पु
  • कन्नड़ – करिबेवु, बाइसोपपु, क़रीबीविना सप्पू
  • कोंकणी – करबापति, बेवा पालो
  • मराठी – कढ़ी पत्ता, करहीनिम्ब, पुष्पला, गंदला

Reference – food.ndtv.com

Reviews

Curry Leave In Hindi
0.0 rating based on 12,345 ratings
Overall rating: 0 out of 5 based on 0 reviews.
Name
Email
Review Title
Rating
Review Content

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *