chyawanprash Benefits in Hindi

Chyawanprash in Hindi

आयुर्वेद के अनुसार कमजोरी, पुराने जुकाम-खांसी सहित फेफड़े व क्षय रोग के औषधियों में साथ च्यवनप्राश (Chyawanprash) एक बहुत ही जरूरी औषधि है| च्यवनप्राश में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली जड़ी बूटियां आँवला, गिलोय व तुलसी भरपूर मात्रा में होती है जो स्मरण शक्ति, बुद्धि व शरीर के विकास में भी काफी मददगार साबित होता है|

Composition and Overview about Chyawanprash

वैसे तो इसे बनाने के लिए 40-50 घटकों की जरूरत होती है, लेकिन मुख्य घटक आंवला ही होती है। ताजा आंवला विटामिन सी का बेहतरीन स्रोत होता है जो सुखाने या जलाने के बावजूद इसमें मौजूद विटामिन सी की मात्रा कम नहीं होती| च्यवनप्राश में औषधीय महत्व वाली लगभग 36 तरह की जड़ी-बूटियां होती शामिल हैं। केशर, नागकेशर, पिप्पली, छोटी इलायची, दालचीनी, बन्सलोचन, शहद और तेजपत्ता, पाटला, अरणी, गंभारी, विल्व और श्योनक की छाल, नागमोथा, पुष्करमूल, कमल गट्टा, सफेद मूसली सहित कई वनस्पतियां मिलाकर च्यवनप्राश तैयार किया जाता है| आप इसे सुबह के समय बारा महीने इस्तेमाल कर सकते हैं पर इसे खास कर सर्दिओ में लेने की सलाह दी जाती है|

च्यवनप्राश के कुछ लाभकारी गुण इस प्रकार है (Some of the beneficial properties of Chyawanprash are as follows)

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाती है च्यवनप्राश – Chyawanprash enhances disease resistance

हमारे शरीर में कई तरह के रोग और कीटाणु होते हैं जो कि अगर आप रोज सुबह च्यवनप्राश लेते हैं तो कई हद तक कम हो जाती है| इसमें कई सारे प्राकृतिक जड़ीबूटी होती है जो कि शरीर की प्रतिरक्षा क्षमता बनाई रखती हैं और इसमें मौजूद भरपूर मात्रा में विटामिन सी शरीर के संक्रमण कीटाणु से रक्षा करती है|

शरीर में नई ऊर्जा का संचार करती है च्यवनप्राश – Chyawanprash rejuvenates the body

इसमें मौजूद कई तरह के विटामिन और प्राकृतिक गुण शरीर में नई ऊर्जा पैदा करने में मदत करती है| जिन्हे बहुत जल्दी थक जाने की समस्या है या फिर काम के कारण बहुत स्ट्रेस होता हैं उनके लिए च्यवनप्राश एक बहुत ही अच्छी दवाई है| अगर वो रोज सही मात्रा में च्यवनप्राश लेंगे तो अपने काम में अपनी एनर्जी को बनाय रख पाएंगे| यह पढ़ाई लिखाई कर रहे बच्चों और छात्र-छात्राओं के लिए भी बहुत ही एक अच्छी एनर्जी वर्धक है|

Also read about Shankhpushpi in Hindi

चेहरे पे बुढ़ापा नहीं आने देती है च्यवनप्राश – Chyawanprash does not let old age come on the face

अगर आप बचपन से ही च्यवनप्राश खाने की आदत डालेंगे तो यह आपके त्वचा के सुंदरता को बनाय रखेगा और बुढ़ापा नहीं आने देता| बहुत सारे लोग इसे दूध के साथ भी लेते हैं जो बहुत ही अच्छा होता हैं स्किन के लिए| यह झुर्रिया और त्वचा में किसी भी प्रकार के सूखेपन को भी दूर करने में मदत करता है साथ ही बहुत समय तक त्वचा के उज्वलता बरकरार रखता है और सुंदरता बनाय रखता है|

जुकाम और संक्रमण से आपकी रक्षा करता है च्यवनप्राश – Chyawanprash protects you from colds and infection

मौसमी सर्दी खासी और जुकाम से हमारी रक्षा करता है च्यवनप्राश| इसमें मौज़ूद विटामिन सी  एक अहम भूमिका लेती है और साथ ही इसमें मौजूद तुलसी और तेजपत्ते जैसे घटक सर्दी को नियंत्रण में रखने में मदत करता है| मौसमी कई सारे समस्या इससे कम हो जाती है| साथ ही किसी भी प्रकार संक्रमण जो की फेफड़े और गले में ज्यादातर होती हैं वो च्यवनप्राश लेने से सही हो जाती है|

कोलेस्ट्रोल की मात्रा को कम करता है – Chyawanprash helps reduce cholesterol

आजकल अगर हम घर में बनाय हुए खाना भी खाते हैं तो भी कई तरह के समस्या हमे हो ही जाती है| इसके बजह अक्सर यह होता है कि खाने के लिए हम जो तेल इस्तेमाल करते हैं वो सही नहीं होता हमारे शरीर के लिए और इस कारण कोलेस्ट्रोल की मात्रा भी बढ़ जाती है| अगर आप रोज च्यवनप्राश लेने की आदत डालेंगे तो यह आपके कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल में रखने के साथ साथ अपने दिल को भी स्वस्थ रखेगा जिससे आपके दिल जनित समस्या कई हद तक कम हो जाएगी|

कब्ज सम्बन्धी समस्या को दूर करने में मदत करता है – Chyawanprash helps to relieve constipation

आज कल खाने और ख़राब दिनचर्या के कारण कब्ज सम्बन्धी समस्या होना आम बात है, पहले यह समस्या ज्यादातर बड़े बूढ़े में ही पाई जाती थी पर आजकल ऐसा कुछ नहीं हैं यह युवकों में भी सामान्य रूप से पाई जाती है|  बहुत सारे बाजार चलती पाउडर इस्तेमाल करना वैसे तो आजकल एक चलन बन बन गया हैं इस मामले में पर यह प्राकृतिक रूप से मल होने की क्षमता कम कर देती है, इस तरह का पाउडर लेना एक आदत भी बन जाता है| इसलिए अगर आप गुनगुने पानी के साथ च्यवनप्राश लेंगे तो यह बहुत ही अच्छा होगा| यह खाली पेट लेना ही सबसे सही होता है|

शरीर से टॉक्सिन्स निकालते हैं च्यवनप्राश – Chyawanprash removes toxins from the body

इसमें ऐसे हर्ब्स होते हैं जो शरीर से टॉक्सिन्स को निकालते हैं और ब्लड सरकुलेशन को बेहतर बनाते हैं। यह जरुरी हर्ब्स से बना होता है जो रक्त को साफ करके शरीर के नैचरल प्रोसेस को संतुलित करने में मदद करता है| शरीर के बेजरूरत चीजे रोज च्यवनप्राश लेने से पूरी तरह से निकल जाता है जो शरीर को स्वस्थ रखने के लिए एक जरुरी कार्य होता है|

कुछ सावधानी – Precautions while using Chyawanprash

बारिश के दिनों में अक्सर हमारी पाचनक्रिया गड़बड़ा जाती है| इसलिए इस समय च्यवनप्राश नहीं खाना चाहिए क्योंकि यह भारी होता है जिससे अपच, एसिडिटी आदि की समस्या हो सकती है| आंवला के चलते कुच लोगों को लूज मोशन होने की शिकायत भी हो जाती है| इसमें शर्करा की मात्रा ज्यादा होती है इसलिए मधुमेह के रोगी इसका सेवन करने से पहले एकबार डॉक्टर की सलाह जरूर ले लें|

बाज़ार में उपलब्ध कुछ अच्छी च्यवनप्राश – Brands of Chyawanprash available in the Market

  • डाबर च्यवनप्राश
  • पतंजलि च्यवनप्राश
  • बैद्यनाथ च्यवनप्राश
  • शतायू च्यवनप्राश
  • सोना चाँदी च्यवनप्राश

Reference – Dabur.com

Reviews

Chyawanprash in Hindi
0.0 rating based on 12,345 ratings
Overall rating: 0 out of 5 based on 0 reviews.
Name
Email
Review Title
Rating
Review Content

 

 

 

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *