ACL Surgery की बारे में जानकारी

ACL (Anterior Cruciate Ligament)  सर्जरी तब करने की जरुरत होती है जब हमारे पैर की लिगामेंट सम्बन्धी कोई समस्या हो| लिगामेंट वो होता है जो  हमारे पैर के ऊपर और नीचे की हड्डीओं के गठन को बनाए रखने में मदत करता है| ज्यादातर खेल में या किसि और कारण गंभीर किसी चोट लगने से लिगामेंट की क्षति हो सकती है और कभी कभी यह टूटते की भी आफत आ जाती है| यह समस्या उनमें ज्यादा पाई जाती हैं जो खेल से जुड़े हुए हैं, खेल के दौरान किसी गलत ढंग से कूदना या इस तरह की हरकत से यह समस्या हो सकती है| लिगामेंट समस्या से फुटबल खिलाड़ी ज्यादा पीड़ित होते हैं| पर देखा गया है की आजकल पुरुषों से ज्यादा यह समस्या महिलाओं में अधिक बड़ रही है|

ACL reconstruction surgery

ACL reconstruction surgery या लिगामेंट पुनर्निर्माण सर्जरी ऐसे परिस्थितिओ में ही किया जाता है जब हमारे अस्थिबंध या लिगामेंट किसी वजह से बहुत क्षतिग्रस्त हो जाता है, इस तरह की समस्या में केवल आम चिकित्सा कोई काम नहीं करती है| उदाहरण के तौर पर जब हमारे लिगामेंट बंधनी टूट जाए तब सर्जन कुछ छोटे छोटे छेद करके उसमे सर्जिकल इंस्ट्रूमेंट यानि की सामग्री भरते हैं और साथ ही में आर्थोस्कोप करते हैं| इस बिषय में ही हम और भी ज्यादा जानकारी लेंगे और साथ ही यह भी जानेंगे  की किस तरह एक अनुभवी डॉक्टर से हम सर्जरी  करवाय जिससे एक सफल और अच्छी सर्जरी हो|

ACL Surgery के दौरान क्षतिग्रस्त लिगामेंट को हटाकर उस जगह पर नई टिस्यू लगाई जाती है, मरीज के शरीर के ही किसी अंश से यह टिस्यू लेकर प्रतिस्थापित की जाती है जरुरत की हिसाब से| देखा गया ही ज्यादातर समय कंधे से यह टिस्यू संग्रह किया जाता है जिससे सर्जरी में आसानी होती है|

टिस्यू बंदोबस्त के बाद सबसे पहले डॉक्टर यह देखते हैं की मरीज के घुटनो में भार ग्रहण करने की क्षमता कितनी है, क्यों की इसके ऊपर ही सर्जरी की सफलता निर्भर करती है| घुटने को सही तरह से मुभ कर पाना और स्थायी रखने की घुटके की क्षमता को भी जांचा जाता है| फिर फ़ाइनल स्ट्रिच किया जाता है| इसके बाद मरीज को कुछ समय के लिए हॉस्पिटल में रहना पड़ता है| किसी भी प्रकार के सूजन इस दौरान ना हो इस के लिए बर्फ के बैंडेज की पट्टी की जाती है| इस दौरान फिजिओथेरपिस्ट के काम बहुत महत्यपूर्ण होता है, क्यों की उनके दिए गए ब्यायाम और रूटीन से आप जल्दी एक स्वस्थ जीबन में कदम रख सकते हैं| मरीज को इस समय फ़िजिओथेरपी को लेकर किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं करनी चाहिए|

लिगामेंट पुनर्गठन के लिए जिन टिस्युओं को लिया जाता है उन्हें लिगामेनटाइजेसन के माध्यम से ही प्रतिस्थापित किया जाता है| इस प्रक्रिया से ही सर्जरी सही तरह से अपना काम करता है, और मरीज को आगे चलकर साधारण जीवन जीने में कोई समस्या भी नहीं होती|

इस समय आपके घुटने को मजबूत करने के लिए रोज कुछ व्यायाम आपको दिया जा सकता है| व्यायाम आपके घुटने की गतिशीलता, पेशिओं की  सहनशीलता और साधारण चलने फिरने की क्षमता को बड़ाती है| इस दौरान घुटना शक्त भी हो जाता है कभी कभी इस लिए पेनकिलर यानि दर्दनाशक दवाई लेना बेहद जरुरी है|

ऐसे समय में मरीज जब आराम करे तब उनके पैर थोड़ा ऊपर किसी ऊंची बस्तु के ऊपर रखना सही होता है| सर्जरी के दो हप्ते बाद से ही आपको धीरे धीरे चलने के लिए बैसाखी की जरुरत हो सकती है| सर्जरी के बाद आप कितने जल्दी अपने काम के दुनिया में फिर से लौट सकते हैं यह आपके काम के प्रकृति के पर निर्भर करता है| अगर आप किसी ऐसे काम से जुड़े है जो ज्यादातर बैठ के ही करना पड़ता है या कोई डेस्क जॉब है जो आप कभी कभार घर से भी कर सकते हैं तो आप दो हप्ते में अपना काम शुरू कर सकते हैं| पर अगर यह बात खेल के मैदान से जुड़े लोगो के लिए है तो कम से कम छह महीने बाद ही काम शुरू करना सही होगा|

Knee Immobilizer

8 जरुरी विषय जो ACL Surgery से पहले जानना जरुरी है:

  1. अपने डॉक्टर के साथ खुल के बात करे
  2. एक्स-रे और एमआरआई ((MRI) करवाना जरुरी है
  3. एक अच्छे आर्थोपेडिक से संपर्क करे
  4. सर्जरी के पहले ही अपने घुटने की क्षमता को अच्छे से जान ले
  5. किस तरह की ACL सर्जरी आप करवाना चाहते हैं सबसे पहले यह अच्छे से समझ ले
  6. किस खाते में किस तरह की खर्च होगा इस विषय में जान ले साथ ही दवाई और फ़िजिओथेरपी के बारे में भी अच्छे से जान ले
  7. अगर आपने मेडिकल बिमा करवा रखे हैं तो यह सबसे अच्छा है, पर सर्जरी के पहले ही आप उनसे बात कर ले की वो कितने प्रतिशत खर्चे का सहयोग देंगे, ज्यादातर बीमा कंपनी जो खर्चा देते हैं वो कभी भी पूरी लागत नहीं होती पर उससे काफी सहयोज मिलता हैं| इसलिए जरुरी कागज़ात पहले से ही तैयार रखे|
  8. आप अच्छे से यह भी जाँच ले की आप कहाँ ऑपरेशन करवाना चाहते हैं और कहाँ नहीं|

1. ACL Surgery के पहले कुछ खर्चे

ACL सर्जरी के लिए ऐसे कुछ टेस्ट जरुरी है जिसके सूची हम नीचे दे रहे हैं

आपके सर्जन सर्जरी से पहले आपको कुछ टेस्ट जरूर देंगे| इनमे से कुछ टेस्ट हर मरीज के लिए जरुरी है, पर कुछ टेस्ट अलग से करना होता है| हर मरीज के शारीरिक परिस्थितिओं की विचार करके ही अतिरिक्त टेस्ट दिया जाता है| एसे ही कुछ सामान्य टेस्ट है

  • शारीरिक परीक्षा
  • एमआरआई
  • रक्त परीक्षण
  • छाती की एक्स -रे
  • रक्त जमावट टेस्ट (Coagulation Test)
  • एलएफटी

इसके इलाबा मरीज के ऊपर निर्भर करके कुछ परीक्षा करना हो सकता है| सर्जरी के पहले की खर्च 6,000 से लेकर 15,000 तक हो सकता है|

2. ACL Surgery की खर्च

नीचे दिए गए यह सारे सर्जरी के खर्च में आते हैं

  • सर्जन की फीस
  • अनेस्थेटिक फीस
  • ऑपरेटिंग थिएटर चार्ज
  • ग्राफ्ट की खर्च
  • ग्राफ्ट को टिकाऊ बनाने की सामग्री खर्च
  • अनेस्थेसिया के लिए मेडिसिन

3. ACL Surgery के बाद की खर्चे

सर्जरी के बाद कम से कम समय मरीज को अस्पताल में रहना ही होता है| इस समय को पोस्ट सर्जरी टाइम कहा जाता है, हर मरीज के लिए ही यह समय बहुत खास है| इस समय खर्चे के सूची में फ़िजिओथेरपी और ददर्नाशक दवाई शामिल रहता है| आइए देख लेते हैं एक नजर में उन चीजों को-

  • दर्द कम करने की दवाई
  • फ़िजिओथेरपी नियुक्ति खर्च
  • ड्रेसिंग, ब्रेस और बैसाखी की लागत
  • सर्जरी के बाद अस्पताल में रहने की खर्चे

ROM Knee Brace

ROM Knee Brace

ACL Surgery के लागत प्रकार

बहुत से लोगो को किसी भी सर्जरी करवाने की दौरान यह अनुभव होता ही है की अलग अलग हॉस्पिटल में आपको एक ही सर्जरी की अलग अलग लागत सूची मिलता है| बहुत से समय यह मरीजों को दुबिधा में डाल देता हैं, पर यहाँ पर एक बात ध्यान में रखना बहुत जरुरी हैं की अगल अलग अस्पताल में कई सारे कारणों से लागत अलग अलग होते हैं| कुछ ऐसे ही विषय पर हम अभी बात करेंगे|

ACL Surgery costs in India – भारत में ACL सर्जरी के लागत

भारत में ACL पुनर्निर्माण सर्जरी के खर्च 75 हजार से लेकर 1.5 लाख के बीच रहता है पर अगल अगल तरीके, सर्जन और सामग्री के गुणवत्ता, ग्राफ्ट फिक्स करने की पद्धति और दुसरे सुबिधाओ के साथ थोड़ा बड़ भी सकती है| सर्जरी के बाद 15 हज़ार से लेकर 20 हज़ार तक फ़िजिओथेरपी और इलाज के लिए खर्च हो सकता है| सर्जरी के बाद के खर्च के साथ यह भी ध्यान में रखे की यह आपके स्वस्थ जीवन के लिए एक जरुरी समय है इसलिए इस खर्च को नजरअंदाज बिलकुल ना करे|

ACL Surgery Grafts

किस तरह से आप ACL Surgery की खर्च को मैनेज करे?

ज्यादतर सर्जरी के खर्च बहुत ज्यादा लगता है पर किसी भी प्रकार की गुणबत्ता के साथ हम समझौता नहीं करना चाहते हैं, इसलिए आइये जान लेते हैं कुछ विकल्प उपाय

1. एक अच्छी अनुभवी डॉक्टर ढूंढें नाकि बहुत महँगी डॉक्टर

अच्छे और अनुभवी डॉक्टरों का पता लगाने के कई तरीके हैं, हो सकता है आपके शहर में ही ऐसे विशेषज्ञों है जो इस क्षेत्र में अनुभवी होने के साथ साथ फीस भी कम लेते हैं|

2. अपने लिए सही ग्राफ्ट को ही चुनें

अपनी पोस्ट सर्जरी जीवनशैली की जरूरतों के विश्लेषण करके ही एक ग्राफ्ट की चयन करे, जो आपके लिए बहुत लाभदायक और सहायक हो| अपने घुटने की दर्द को जाँच कर डॉक्टर से सलाह करें कि आपके  लिए कौनसा ग्राफ्ट सही है|

3. अतिरिक्त खर्चे को कम करें

ज्यादातर हम अपने ब्यक्तिगत कारणों से अपने खर्चो को बड़ा देते हैं| जैसे फुल टाइम नर्स या आराम दायक रूम हमारे लिए असल में कितना जरुरी है यह नहीं देखते| एक अच्छी और साफ अस्पातल होना ही जरुरी हैं फाइव स्टार होटल की तरह अस्पताल की सुबिधा होना बिलकुल जरुरी नहीं है|

4. सर्जरी के लिए खुद को मानसिक रूप से तैयार करें

सर्जरी के लिए खुद को तैयार करके आप अपने आप को बहुत मदद कर सकते हैं, शारीरिक और मानसिक रूप से अपने आप को सर्जरी के लिए तैयार करना सर्जरी को आधा सफल बना देता है | इसके लिए  प्री-ऑपरेटिव फिजियोथेरेपी, संतुलित आहार, ब्लड शुगर के स्तर को सही बनाए रखना, खास कर यदि आपको मधुमेह है तो धूम्रपान छोड़ना बहुद फायदेमंद होता है|

5. मेडिकल बीमा

यदि आपके पास पहले से मेडिकल बीमा है, तो अच्छी खबर यह है कि भारत में अब ज्यादातर मेडिकल बीमा कंपनियां ACL Surgery को कवर करती है। हालांकि, ऐसे दावे केवल स्वीकार किए जाते हैं उन पॉलिसी में जो सर्जरी से दो से तीन साल पहले शुरू की गई है|

मरीजों को पहले से ही अपने सर्जन से बात करके और सभी आवश्यक दस्तावेजों को प्राप्त कर लेना चाहिए। मेडिकल बीमा कंपनी आवश्यक कागजों को प्रमाण के तौर पर पहले मांग सकती हैं, जिसमे सर्जरी के समय और पूरी जानकारी लिखी हुई हो|

यह पता लगाना जरुरी है कि वे कितने प्रतिशत खर्च के भरपाई करेंगे। हालांकि यह कभी भी कुल राशि नहीं होती है, यह निश्चित रूप से बस इलाज को सस्ता बनाता है|

किसी भी प्रकार के समझोता ना करके एक अच्छे सर्जन से  ACL Surgery करवाना आपके बेहतर कल के लिए एक अच्छा कदम हो सकता है, बस आपको थोड़ा सोच और समझदारी से काम लेना होगा| अगर आप इस विषय में और जानना जाहते हैं तो हमे [email protected] पर इमेल करे अथवा +91-9640378378 इस नंबर पे WhatsApp करे|

ACL Surgery in Hindi, ACL Surgery Cost in Hindi, ACL Surgery cost in India, ACL Surgery Cost details in Hindi

Leave a Review

How did you find the information presented in this article? Would you like us to add any other information? Help us improve by providing your rating and review comments. Thank you in advance!

Name
Email (Will be kept private)
Rating
Comments
ACL Surgery की बारे में जानकारी Overall rating: ☆☆☆☆☆ 0 based on 0 reviews
5 1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *